• India
  • Last Update 11.30 am
  • 26℃ India
news-details
उज्जैन

एसडीएम कैलाश चंद्र ठाकुर पर कार्रवाई और निलंबन की मांग को लेकर सड़क पर उतरे पत्रकार मुख्यमंत्री निवास आंदोलन की दी चेतावनी।

◼️महिदपुर

◼️रिपोर्टर: जुबैर खान

 

◼️शासन द्वारा कार्यवाही नहीं करने पर उग्र हुआ पत्रकारों का आक्रोश, एसडीएम कैलाश चंद्र ठाकुर पर कार्रवाई और निलंबन की मांग को लेकर सड़क पर उतरे पत्रकार मुख्यमंत्री निवास आंदोलन की दी चेतावनी।

 

◼️लोकतांत्रिक देश में पत्रकारों की अस्मिता से अभद्रता पूर्वक व्यवहार करने वाले और पत्रकारों की माइक आईडी पर प्रहार करने वाले एसडीएम कैलाश ठाकुर पर कार्यवाही मांगों को लेकर लगातार दूसरे दिन भी शांतिपूर्वक विरोध प्रदर्शन किया गया। विरोध प्रदर्शन के लिए पत्रकार संगठन के द्वारा अनोखा प्रदर्शन किया गया। एसडीएम कैलाश चंद्र ठाकुर के विरोध को लेकर पत्रकार संगठन में संविधान के रचयिता भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण कर किया। और संविधान के निर्माता भीमराव अंबेडकर जी से हाथ जोड़ प्रार्थना की जिन्होंने संविधान की रचना की थी उसी कानून का दुरुपयोग कर एसडीएम कैलाश चंद्र ठाकुर ने उच्च अधिकारी संभाग आयुक्त संदीप यादव जिला कलेक्टर आशीष सिंह श्री शिवराज सिंह को चुनौती दे डाली लेकिन।

 

◼️ सबसे बड़ी बात यह है कि इतने दिनों से पत्रकार संगठनों के द्वारा चलाए जा रहे विरोध प्रदर्शन के बावजूद भी जिम्मेदार उच्च अधिकारी शिवराज सरकार कार्रवाई करने में क्यों बिचक रही है । प्रशासन की इस हठधर्मिता के खिलाफ महिदपुर के सभी पत्रकार संगठन एकजुट हैं और अपना आंदोलन अनवरत जारी रखे हुए हैं आपको बता दें कि महिदपुर के पत्रकार ने प्रशासन की खबरें और कवरेज का बहिष्कार कर रखा है पत्रकारों ने तिरंगा अभियान हर घर तक तिरंगा और तिरंगा यात्रा तथा आजादी के अमृत महोत्सव जैसे राष्ट्रीय मुद्दे को कवरेज करने का निर्णय लेते हुए सिर्फ इन कार्यक्रमों के को कवरेज किया जाएगा और किया जाता रहेगा प्रशासन के खिलाफ अपने आंदोलन में पत्रकारों ने हाथ पर काली पट्टी बांधकर किया। वही प्रथम चरण में श्री रणजीत हनुमान मंदिर में एसडीएम कैलाश ठाकुर की सद्बुद्धि के लिए हनुमान चालीसा का पाठ किया और दूसरे चरण में हाथ पर काली पट्टी बांधकर और हाथों में तख्ती लेकर नगर के प्रमुख मार्ग में रैली निकालकर शांति पूर्वक अपना विरोध दर्ज करवाया रैली समापन पर पत्रकारों ने कहा कि अगर प्रशासन एसडीम कैलाश चंद्र ठाकुर पर कार्यवाही नहीं करता है तो आगे की रणनीति गंभीर होती जाएगी। और हमें विवश होकर मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल मैं प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह क्षेत्र श्यामला हिल्स पर अनिश्चितकालीन के लिए धरना देना पड़ेगा महिदपुर पत्रकार संगठन के साथ अब देवास रतलाम कालापीपल उज्जैन राजगढ़ आदि पत्रकार संघ भी पत्रकार साथियों के साथ हुए दुर्व्यवहार के साथ जुड़ चुके हैं।

 

पुलिस महानिदेशक के दरबार पहुंची कुक्षी टीआई के विरुद्ध शिकायत 

प्राकृतिक ईश्वरीय न्याय का नाम है सार्वलौकिक मां का अनुसरण