• India
  • Last Update 11.30 am
  • 26℃ India
news-details
धार

मेरी सारी अनमोल पूंजी मेरे दोस्त हैं वीरेंद्र कानूनगो

मेरी सारी अनमोल पूंजी मेरे दोस्त हैं वीरेंद्र कानूनगो

 

धार, सैयद रिजवान अली।  कुछ भी नहीं रहता दुनिया में यारों बस रह जाती है दोस्ती,तेरे जैसा यार कहां, ए दोस्त यह दुआ मेरी 100 साल तक रहे जमाना बहार का, दोस्तों साथी तेरे नाम 1 दिन जीवन कर जाएंगे, यह दोस्ती हम नहीं तोडेंगे तोडेंगे दम मगर तेरा साथ ना छोड़ेंगे, यह सारे गानों की सार्थकता तब सिद्ध होती है वाकई जब दोस्त अपने सपनों को साकार करने में मदद करते हैं और बचपन से पचपन तक और आगे भी साथ निभाते हैं , मेरी सारी अनमोल जमा पूंजी मेरे दोस्त हैं वरिष्ठ समाजसेवी आदिम जाति सेवा सहकारी समिति मर्यादित मिर्जापुर प्रबंधक वीरेंद्र कानूनगो ने यह बात अपने वाकानेर के बचपन के दोस्तों के साथ कही उनके सभी दोस्त मित्रों ने सादगी के साथ उनका जन्मदिन बाईपास पर जोशी कुरेशी कांप्लेक्स के सामने मेघा पार्ट्स सेंटर पर सादगी के साथ मनाया वीरेंद्र कानूनगो का स्वागत सम्मान इस्तकबाल पुष्पा मालाओं से जाकिर कुरेशी जितेंद्र कानूनगो सुनील जायसवाल नाथूलाल सिसोदिया पूरब काला सैयद रिजवान अली दुर्गेश कानूनगो, मन्ना वर्मा ने किया इस अवसर पर गरीबों को भोजन और ब्लॉक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मरीजों को फल वितरित किए गए गौशाला में पशुओं को पशु आहार दिया। उक्त जानकारी बाबूलाल सिसोदिया ने दी।

पुलिस महानिदेशक के दरबार पहुंची कुक्षी टीआई के विरुद्ध शिकायत 

प्राकृतिक ईश्वरीय न्याय का नाम है सार्वलौकिक मां का अनुसरण