• India
  • Last Update 11.30 am
  • 26℃ India
news-details
भोपाल

मध्यप्रदेश में नही थम रही पत्रकारों पर हमले की घटना।धार में पत्रकार सहित उसके परिवार पर किया सट्टा कारोबारियों ने हमला भोपाल।

मध्यप्रदेश में नही थम रही पत्रकारों पर हमले की घटना।धार में पत्रकार सहित उसके परिवार पर किया सट्टा कारोबारियों ने हमला


भोपाल। शिवराज सरकार लाख दावे करे कि प्रदेश में पत्रकारिता तथा पत्रकारों की सुरक्षा की जा रही है लेकिन हकीकत इसके विपरित है,आज भी पत्रकार भय व आतंक के बीच जीवन जी रहा है तथा प्रदेश भर में पत्रकार बिरादरी पुलिस प्रशासन माफिया तथा अपराधियों के निशाने पर हैं।

ताजा मामला धार जिले के बदनावर तहसील अंतर्गत कोद नगर के पत्रकार विक्की राजपुरोहित सहित उनके पिता व भाई पर 4 सटोरियों द्वारा मारपीट का सामने आया है।
 धार जिले के सरदारपुर ,बदनावर सहित अन्य तहसीलों में अवैध कारोबारियों सहित टेबल संचालक जिसे कहा जाए सटोरिया का आतंक फैला हुआ है। जिनके खिलाफ समाचार प्रकाशन करने वाले पत्रकार हमले के शिकार होते हैं। पुलिस द्वारा पत्रकार संगठनों के विरोध के बाद लाख अपराधियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर दी है परंतु यह सब नाकाफी है। अपराधियों के बीच पत्रकारों के  विरुद्ध अपराध करने वालो के खिलाफ कठोर दंडात्मक कार्यवाही होना नितांत आवश्यक हो गया है।

पत्रकार सुरक्षा एवम कल्याण के लिए प्रतिबद्ध अखिल भारतीय संगठन प्रेस क्लब ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट के संस्थापक अध्यक्ष सैयद खालिद कैस सहित धार से राष्ट्रीय सचिव घनश्याम पाटीदार एवम जिले के वरिष्ठ पत्रकार तथा संगठन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सैयद रिज़वान अली ने धार में घटित इस घटना की तीखी आलोचना करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का ध्यान इस ओर आकर्षित करते हुए अविलंब पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की मांग को दोहराया। साथ ही इस संबंध में पुलिस महानिदेशक महोदय को ज्ञापन सौंप कर प्रदेश भर में पत्रकारों पर हो रहे हमलों के प्रति ध्यानाकर्षित करते हुए दोषियों के विरोध कठोर कार्यवाही की भी मांग की  है ।

गणतंत्र दिवस पर संविधान बचाने तिरंगा यात्रा लेकर निकले आरिफ मसूद

सेवा को सम्मान: विचारक, द्विभाषी लेखिका, पत्रकार श्रीमती शशि दीप को मिला "इंडिया स्टार रिपब्लिक अवार्ड 2023"